July 21, 2024

बागी बढ़ाएंगे भाजपा की मुसीबत, पुष्पेंद्र के नामांकन ने बढ़ाई भाजपा की मुश्किलें

0

बागी बढ़ाएंगे भाजपा की मुसीबत

 

पुष्पेंद्र के नामांकन ने बढ़ाई भाजपा की मुश्किलें सपा के नामांकन में उमड़ा जनसैलाब।

भाजपा के नामांकन भरने में भी नदारद दिखे वर्तमान विधायक राजेश प्रजापति

भीतरघात से भाजपा की बढ़ेंगी मुश्किलें।

चंदला विधानसभा में भाजपा की मुश्किलें कम होती नजर नहीं आ रही है जहां एक टिकट कटने से नाराज वर्तमान विधायक राजेश प्रजापति ने पार्टी से दूरी बना ली है वहीं दूसरी ओर पैराशूट प्रत्याशी दिलीप अहिरवार वर्तमान विधायक को मनाने में असफल नजर आ रहे हैं भाजपा से टिकट मिलने के बाद जब क्षेत्र की जनता से संपर्क किया गया तो कई ग्रामों के लोगों ने तो पैराशूट प्रत्याशी बोलते हुए कहा कि हमने दिलीप अहिरवार का नाम ही पहली बार सुना है हमारे छेत्र को बाहरी प्रत्याशी की जरूरत नहीं है हम अपने छेत्र में स्थानिक व्यक्ति को चुनने के लिए निरंतर 3 साल से आवाज उठाई है जिसके बाद भी अगर बाहरी प्रत्याशी को भाजपा ने टिकट दी है तो हमे दूसरे विकल्पों पर विचार करना पड़ेगा।।

दिलीप को टिकट मिलने से कांग्रेस को होगा फायदा।

छतरपुर रहने वाले दिलीप अहिरवार पर आगामी चुनाव में जनता कितना भरोसा करेंगी यह तो वक्त ही बताएगा साथ ही अगर भाजपा के साथी सहयोगियों की बात की जाए तो जनता ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि भाजपा की आड़ में भाजपा के बैनर तले झंडे का फायदा उठा रहे कुछ कार्यकर्ता उत्खनन एवं पहाड़ की दलाली करते नजर आते रहे हैं ऐसे में हम कैसे बाहरी प्रत्याशी दिलीप अहिरवार का साथ दे जिनके ऊपर पूर्व में ही कई तरह के क्रिमिनल केस दर्ज है हालांकि पार्टी के पदाधिकारी ने इन केसों पर सफाई देते हुए कहा था कि कांग्रेस के शासनकाल में दुर्भावना बस मुकदमे थोपे गए थे लेकिन अब सोचने का विषय है कि जुआ एक्ट ऐसे कैसे लगाया जा सकता है जब इस मामले में छतरपुर के स्थानीय निवासियों से संपर्क किया गया तो उन्होंने नाम न छापने की शर्त पर स्पष्ट रूप से बताया कि जुआ सट्टा सहित कई अन्य तरह की अवैध गतिविधियों में दिलीप का नाम जिले में सुर्खियों में रहा है ।।

चला विधानसभा में अवैध उत्खनन जुआ सट्टा सहित तमाम मुद्दों के बीच उलझी जनता।

जब से वर्तमान प्रत्याशी की टिकट फाइनल हुआ है तब से ही इस तरह के आरोप खुले मंच से लगते नजर आ रहे हैं अब जहां एक और जनता को साफ ईमानदार नेता की जरूरत है वहीं दूसरी ओर भाजपा की ओर से खड़े हुए प्रत्याशी पर इस तरह के आरोप साथी सहयोगी कार्यकर्ताओं का पदाधिकारी का बालू एवं पहाड़ खदानों में संलिप्त स्पष्ट नजर आती है जनता को आगामी 5 साल के लिए यह भरोसा कोई नहीं देते नजर आ रहा है कि क्षेत्र में इस तरह की असावधानिक गतिविधियों पर लगाम लगाई जा सकेगी।

रिपोर्ट उदय नारायण अवस्थी, छतरपुर मध्यप्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे