July 19, 2024

यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी की मौत की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

0

यूपी सरकार ने मुख्तार अंसारी की मौत की मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

मुख्तार अंसारी का शव बांदा से गाजीपुर के लिए रवाना हो गया है. मुख्तार के शव का पोस्टमार्टम होने के बाद उसके शव को लेकर पुलिस गाजीपुर के लिए रवाना हो गई है. कड़ी सुरक्षा के बीच मुख्तार का शव रवाना हुआ है. मुख्तार के शव के साथ काफिले में करीब एक दर्जन वाहन शामिल हैं, शव के साथ मुख्तार का बेटा उमर अंसारी भी मौजूद है।

गाजीपुर में मुहम्मदाबाद में मुख्तार अंसारी के घर के आगे बैरिकेटिंग कर दी गई है और सुरक्षा बढ़ा दी गई है. वहीं मीडिया कर्मियों को अब अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है. बांदा से शव यहां लाया जा रहा है लेकिन 8-9 घंटे लगेंगे. 400 किलोमीटर की दूरी है. भारी संख्या में मुख्तार के समर्थक यहां खड़े हैं. मुख्तार को गरीबों का मसीहा बता रहे हैं. उच्चस्तरीय जांच की मांग कर रहे हैं यह कहते हुए की उनको जहर देकर मारा गया. शव पहुंचने पर पास के काली बाग कब्रिस्तान में मुख्तार को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा।

मुख्तार अंसारी के शव को लेकर जा रहे काफिले में मौजूद मुख्तार के वकील नसीम हैदर भी हैं. उन्होंने बताया था कि मुख्तार अंसारी का शव उसके छोटे बेटे उमर अंसारी, बहू निकहत अंसारी और दो चचेरे भाइयों के सुपुर्द किया गया. उन्होंने कहा कि शव के साथ एंबुलेंस में उमर अंसारी, निकहत अंसारी और दोनों चचेरे भाई बैठे हैं. सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस अधिकारियों की 24 गाड़ियां काफिले में हैं और दो गाड़ियां अंसारी के परिवार की हैं।

गाजीपुर के मोहम्मदाबाद यूसुफपुर में दुकानें और बाजार बंद हैं और लोग मुख्तार के शव का इंतजार कर रहे हैं. मुहम्मदाबाद गाजीपुर जिले का तहसील मुख्यालय है, जहां लोगों ने अपनी दुकानें बंद रखी हैं. लोग युसूफपुर मोहम्मदाबाद में मुख्तार अंसारी के आवास पर पहुंचने लगे हैं।

उत्तर प्रदेश सरकार ने मुख्तार अंसारी की हत्या के मामले में मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं. उत्तर प्रदेश सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि तीन सदस्यीय समिति मौत की जांच करेगी. मुख्तार अंसारी के बेटे उमर अंसारी ने दावा किया है कि उनके पिता को जेल में स्लो प्वाइजन दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे