July 19, 2024

कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने अटल आवासीय विद्यालय का किया निरीक्षण

0

कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने अटल आवासीय विद्यालय का किया निरीक्षण

 

सोनभद्र के चोपन विकास खंड क्षेत्र में 65 करोड़ की लागत से 1000 बच्चों के पठन-पाठन के लिए तीन मंजिला बनकर तैयार हो रहे आवासीय अटल विद्यालय गुरमूरा का शनिवार को सूबे के श्रम सेवायोजन कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर ने निरीक्षण किया। इस दौरान आवश्यक व्यवस्थाएं यथाशीघ्र पूर्ण किए जाने का निर्देश दिया। विद्यालय में 11 सितंबर से कक्षाओं का संचालन किया जाना है। 23 सितंबर को प्रधानमंत्री द्वारा उद्घाटन करने की संभावना जताई गई।

उन्होंने विद्यालय के प्रत्येक कमरों, कैंटीन, शौचालय, किचन, स्टोर रुम आदि का निरीक्षण किया।

वही मंत्री अनिल राजभर ने खेल मैदान, बॉस्केटवाल, बैडमिंटन कोड जल्दी बनाकर तैयार करने के लिए निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान भोजन की थाली अच्छी नहीं होने पर फटकार लगाते हुए उसे तत्काल बदलने के लिए कहा। बिस्तर पर बिछाने वाले रंग बिरंगे चादर व तकिया कवर को देखकर उसे एक ही रंग का खरीदने के दिशा निर्देश दिए।

विद्यालय के प्रधानाचार्य बीके मंडल ने नेटवर्क की समस्या को देखते हुए टावर लगाने की बात मंत्री अनिल राजभर से कही। इसके अलावा 10 से 12 घंटे मिल रही बिजली को 24 घंटे विद्युत आपूर्ति मुहैया कराने की मांग की।बिजली के अभाव में जनरेटर व सोलर प्लांट लगाने की व्यवस्था पर भी चर्चा हुई। गुरमुरा स्थित घासी बस्ती की दर्जनों महिलाओं ने मंत्री के वाहन को रोककर पानी की समस्या से अवगत कराया। जिस पर कैबिनेट मंत्री ने महिलाओं को आश्वासन दिया की एक-दो दिन के भीतर उनकी समस्या का समाधान हो जाएगा।

मंत्री अनिल राजभर ने विद्यालय के प्रधानाचार्य को आदेशित देते हुए कहा कि अभिभावकों को व्हाट्सएप के जरिए जोड़ा जाए जो नहीं जुड़ पाएंगे उन्हें फोन के माध्यम से आवश्यक जानकारी दी जाए । अभिभावकों को हिंदी में मैसेज भेजा जाए ताकी श्रमिक अभिभावक हिंदी में उसे आसानी से पढ़ सकें। विद्यालय में पठन-पाठन करने वाले बच्चों को किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होनी चाहिए। आवासीय विद्यालय के निर्माण में बालक-बालिका हॉस्टल, कैंटीन आदि शामिल है।

इस विद्यालय में निर्माण श्रमिकों व कोविड में अनाथ हुए बालक व बालिकाओं को कक्षा 12 तक की शिक्षा मिलेगी। अभी चालू सत्र में कक्षा 6 के बच्चों की पढ़ाई होगी शिक्षा पूरी तरह निःशुल्क होगी। इस सत्र में 40 लड़के व 40 लड़कियों का प्रवेश हो चुका है। बच्चों को पढ़ने के लिए वर्तमान समय में 10 अध्यापक नियुक्त हैं। प्रधानमंत्री का नारा है श्रमेव जयते श्रमिकों को सम्मान देना इसी के तहत कामगार के बच्चों को शिक्षा के लिए विश्व स्तरीय सुविधाओं के साथ यह शिक्षण संस्थान बन रहा है । हर मंडल स्तर पर एक विद्यालय बन रहा है जैसे ही व्यवस्थित तरीके से शिक्षण संस्थान चलने लगेगा तब हम प्रत्येक जिले में इसी तरह का अटल आवासीय विद्यालय बनाने का काम करेंगे।

ख़बरजगत के लिये सोनभद्र से मनोज सिंह राणा की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे