July 19, 2024

चुनावी चंदा भाजपा का बढ़ा घोटाला –इंडिया गठबंधन

0

चुनावी चंदा भाजपा का बढ़ा घोटाला –इंडिया गठबंधन

दुद्धीनिवार की दोपहर कस्बे के डी आर पैलेस में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया है। इस दौरान इलेक्टोरल बांड (चुनावी चंदा) घोटाले में डूबी मोदी सरकार विपक्ष शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों और विपक्षी नेताओं को बिना सबूत के जेलों में डाल रही है।

संविधान और लोकतंत्र को खत्म करने की कोशिश कर रही भाजपा सरकार को सत्ता से बेदखल करना आज वक्त की जरूरत है। उपरोक्त बातें इंडिया गठबंधन के नेताओं ने प्रेस वार्ता के दौरान कही वार्ता के दौरान भाकपा माले के राज्य सचिव कामरेट सुधाकर यादव व सपा विधान सभा अध्यक्ष अवधनारायण यादव सपा विधायक प्रत्याशी विजय सिंह गोड आदि ने संयुक्त रूप से
बातचीत करते हुए आगे कहा कि वार्ता में सपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और भाकपा माले के नेता शामिल थे। गठबंधन के नेताओं ने आगामी लोकसभा चुनावों एवं दुद्धी विधानसभा उप चुनाव में भाजपा को हराने और इंडिया गठबंधन के प्रत्याशियों को जिताने की अपील की।जिस तरीके से मोदी सरकार इडी, सीबीआई, इनकमटैक्स सहित तमाम सांविधानिक संस्थाओं को विपक्ष के विरुद्ध हथियार की तरह इस्तेमाल कर रही है और असहमति और व विरोध की आवाज को कुचल रही है इससे स्पष्ट है कि उसका सांविधानिक मूल्यों में कोई आस्था नहीं रह गई है। इतना ही नहीं अब तो भाजपा सांसद और नेता खुलेआम संविधान बदलने की बातें भी कर रहे हैं। नेताओं ने कहा कि विस्फोटक होती बेरोजगारी, कमरतोड़ मंहगाई, तबाह शिक्षा व स्वास्थ्य व्यवस्था के सवाल पर जवाब देने की वजाय पीएम मोदी और उनके नेता खुलेआम सांप्रदायिक उन्माद फैलाने वाले वक्तव्य दे रहे हैं। अपराध मुक्त यूपी की बात करने वाली योगी सरकार में दलितों, आदिवासियों, कमजोर वर्गों और महिलाओं के विरुद्ध बेतहाशा हिंसा बढ़ी है। बलात्कार और हत्या के आरोपियों का खुलेआम समर्थन भाजपा का चरित्र बन गया है। बलात्कार के अपराधी को जिस तरह जानबूझकर भाजपा ने दुद्धी का विधायक बनाया उससे उसका चेहरा और चरित्र पूरी तरह उजागर हो गया है। इंडिया गठबंधन के नेताओं ने कहा कि सोनभद्र एवं अन्य आदिवासी इलाकों में वनाधिकार कानून के तहत आदिवासियों को जमीनें तो नहीं मिली अब वन संरक्षण संशोधन अधिनियम के जरिए वनाधिकार कानून को ही बेअसर करने की साज़िश की है। आदिवासियों को जंगल से जलाने के लिए लकड़ी और महुआ आदि लेने पर वन विभाग के अधिकारियों द्वारा फर्जी मुकदमों में फंसाकर उत्पीड़ित किया जा रहा है। दुद्धी इलाका जिला मुख्यालय से लगभग डेढ़ सौ किलोमीटर दूर पड़ता है एवं स्थानीय लोग लम्बे समय से दुद्धी को जिला बनाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन भाजपा सरकार में कोई सुनवाई नहीं हो रही है। नेताओं ने कहा कि देश व लोकतंत्र को बचाने के लिए इस आदिवासी, दलित, युवा, महिला व जन विरोधी मोदी सरकार को सत्ता से उखाड़ फेंकना बेहद ही जरूरी कार्यभार है। नेताओं ने आम जन से सत्तारूढ़ भाजपा को हराने और इंडिया गठबंधन के उम्मीदवार को जिताने की अपील की। कहा कि दुद्धी क्षेत्र की मूल भूत समस्याएं यथावत है यहां से मजदूरों का पलायन निरंतर बढ़ रहा है आदिवासी विस्थातित हो रहे है उन्हे पुनर्वासित ठीक से नहीं किया जा रहा।आज आम आदमी हमारी गोद से निकलने वाली बालू ,बोल्डर व लकड़ी जैसे कई प्राकृतिक संसाधन के उपयोग के लिए परेशान है और यदि किसी तरह उपयोग में ला भी रही है तो मोटी कीमत चुकानी पढ़ रही है। प्रेस वार्ता के दौरान
भाकपा माले के तहसील प्रभारी बिगन गोड प्रभु सिंह एडोकेट,रमाशंकर यादव अंगूरी बानो सुरेश कोल वेद प्रकाश अग्रहरि,सहित दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
www.khabarjagat24.com
रिपोर्ट मनोज सिंह राणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे