July 21, 2024

बेटी बचाओ-बेटी पढाओं योजना के अन्तर्गत मण्डल स्तरीय खेल-कूद प्रतियोगिता ‘‘नारी शक्ति समागम’’ कार्यक्रम का आयोजन पुलिस लाइन मैदान बांदा में किया गया

0

बेटी बचाओ-बेटी पढाओं योजना के अन्तर्गत मण्डल स्तरीय खेल-कूद प्रतियोगिता

कैबिनेट मंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास बेबी रानी मौर्य के मुख्य आतिथ्य में एवं विशिष्ट अतिथि  राज्यमंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास प्रतिभा शुक्ला तथा जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में *बेटी बचाओ-बेटी पढाओं योजना के अन्तर्गत मण्डल स्तरीय खेल-कूद प्रतियोगिता ‘‘नारी शक्ति समागम’’ कार्यक्रम का आयोजन पुलिस लाइन मैदान बांदा में किया गया।*

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कैबिनेट मंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास बेबी रानी मौर्य ने खेल-कूद प्रतियोगिता में प्रतिभाग करने वाली बालिकाओं के साथ आयी हुई माताओं को प्रणाम करते हुए कहा कि मातायें बेटयों को आगे बढाने में बहुत बडा सहयोग कर रही हैं, जो बहुत ही प्रशंसनीय है। उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री  द्वारा खेलो इंडिया कार्यक्रम के द्वारा बालिकाओं को खेल-कूद के क्षेेत्र में आगे बढने के लिए प्रेरित किया हैं। उन्होंने कहा कि बेटियों के जन्म से लेकर विवाह तक की जिम्मेदारी लेते हुए केन्द्र व प्रदेश सरकार उन्हें समय-समय पर आवश्यक मदद कर रही है। उन्होंने कहा कि मण्डल स्तरीय इस प्रतियोगिता में मण्डलीय जनपद के जिलों की 641 बालिकाओं ने 13 विभिन्न खेलों में प्रतिभाग कर नारी शक्ति समागम का बृहद स्वरूप प्रदान किया है, जो कि अत्यन्त सराहनीय है।
उन्होंने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताओं से ग्रामीण अंचल की बेटियों/महिलाओं को आगे बढकर अपनी प्रतिभा को निखारने का अवसर मिलता है। किसी भी प्रतियोगिता को जीतने के लिए पूरी मेहनत एवं लगन लगानी होती है। उन्होंने कहा कि महिला कल्याण के लिए केन्द्र सरकार नारी शक्ति वंदन बिल के द्वारा महिलाओं को आगे बढाने का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि महिलाओं के हितों के लिए अनेकों जन कल्याणकारी योजनायें कन्या सुमंगला योजना, रानी लक्ष्मी बाई योजना, प्रधानमंत्री वंदन योजना, मिशन शक्ति योजना आदि योजनायें संचालित कर महिलाओं/बालिकाओं को सशक्त बनाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अगले वित्तीय वर्ष से कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत मुख्यमंत्री द्वारा 25 हजार रूपये की धनराशि दी जायेगी। उन्होंने कहा कि विकसित भारत संकल्प यात्रा के द्वारा भी गाॅव शहर के वंचितों लोंगो को योजनाओं का लाभ प्रदान किया जा रहा है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि द्वारा विभिन्न खेल-कूद प्रतियोगिता में विजयी बालिकाओं को मेडल प्रदान कर सम्मानित किया गया तथा महिला पुलिस आरक्षियों द्वारा उत्कृष्ठ कार्य करने पर सम्मानित किया गया।

विशिष्ट अतिथि राज्यमंत्री महिला कल्याण एवं बाल विकास प्रतिभा शुक्ला ने कहा कि बेटियां माता-पिता व गुरू का सदैव सम्मान करें तथा साक्षर के साथ-साथ शिक्षित भी बने ताकि किसी भी महिला/पुरूष को वृद्धाश्रम न जाना पडे। उन्होंने कहा कि बेटियां सब कुछ कर सकती हैं। अपनी नकारात्मक ऊर्जा को त्यागकर सकारात्मक विचारों व ऊर्जा के साथ आगे बढें। जीवन में आगे बढने के अपने चरित्र को उज्वल व मजबूत बनाये रखें। जीवन के उद्देश्य को पूरा करने के लिए दृढ इच्छा के साथ एक बडा सपना देखते हुए कार्य करें, सफलताअवश्य मिलेगी।

विधायक सदर प्रकाश द्विवेदी ने कहा कि वर्ष 2014 से प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में नारी सशक्तिकरण के लिए बहुत सारे कार्यक्रम संचालित किये गये हैं तथा महिलाओं को 33 प्रतिशत का आरक्षण नारी शक्ति वंदन बिल के द्वारा दिये जाने हेतु पारित कराया गया है। उन्होंने कहा कि मण्डल स्तर पर बालिकाओं की इस तरह की खेल-कूद प्रतियोगितायें निरन्तर आयोजित की जानी चाहिए,

कार्यक्रम के उपरांत विजेताओं को सम्मानित किया गया

www.khabarjagat24.com
रिपोर्ट दिलीप जैन बीरेंद्र गुप्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे