July 19, 2024

अवैध खनन की सूचना पर पहुंचे वन क्षेत्राधिकारी पर जानलेवा हमला

0

अवैध खनन की सूचना पर पहुंचे वन क्षेत्राधिकारी पर जानलेवा हमल

 

सोनभद्र के घोरावल कोतवाली क्षेत्र और वन विभाग के गुरमा रेंजर में खनन माफियाओं के हौसला इतना बुलंद है कि खनन माफियाओं ने वन क्षेत्राधिकारी पर ट्रैक्टर चढ़ाकर जान से मारने का प्रयास किया गया था। वन विभाग के लोगों से मिली जानकारी के अनुसार वन क्षेत्राधिकारी पवन कुमार सचान घोरावल थाना क्षेत्र के अंतर्गत शिल्पी कोरट गांव में प्रतिदिन बड़े पैमाने पर हो रहे बालू खनन की शिकायत के बाद जांच करने पहुंचे थे। इस दौरान जैसे ही वह खनन क्षेत्र में पहुंचे तो हौसला बुलंद खनन माफियाओं द्वारा उनके ऊपर ट्रैक्टर चढ़ाकर जान से मारने का प्रयास किया गया।

इस दौरान उनकी बुलेट बाइक ट्रैक्टर में फंस गई हालांकि रेंजर बाल-बाल बच गए । घटना 01 सितंबर के रात की है लेकिन पुलिस और वन विभाग के तरफ से कोई कार्यवाही ना होने की वजह से इस मामले की जानकारी नहीं हो पाई। लेकिन जब आज भारी संख्या में वन विभाग के कर्मी वी वाइल्डलाइफ के वार्डन मामले की जांच व आरोपियों के गिरफ्तारी के लिए पहुंचे तो यह मामला प्रकाश में आया।फिलहाल वन विभाग के द्वारा इस मामले की जानकारी पुलिस को अभी तक नहीं दी गई है। वहीं आज वन विभाग के वाइल्ड लाइफ के वार्डन और कई वन क्षेत्र के क्षेत्राधिकार सहित मौके पर निरीक्षण के लिए पहुंचे और आरोपियों के गिरफ्तारी का प्रयास किया। लेकिन एक नामजद सहित पांच अज्ञात आरोपी फरार हो गए।

घटना के बाद वाइल्डलाइफ वार्डन अरविंद कुमार भारी विभागीय फोर्स के साथ न केवल घटनास्थल का जायजा लिया बल्कि आसपास के इलाके में हो रहे अवैध खनन की भी बारीकी से जांच किया । इसके अतिरिक्त संबंधित खनन कर्ताओं के ऊपर कारवाई करने की बात कहते हुए मीडिया से बातचीत में बताया कि मामले में प्रमुख आरोपी अंगद यादव के घर भी गया था लेकिन वह मौके से फरार रहा जिसे जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा इसके अतिरिक्त 5 अन्य अज्ञात के खिलाफ कार्यवाही की बात कही । वही इतनी बड़ी पैमाने पर वन विभाग की फोर्स देखकर आसपास के गांव में मचा है हड़कंप मच गया।

www.khabarjagat24.com
रिपोर्ट मनोज सिंह राणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे