July 21, 2024

49 महिला बंदी और बच्चे सेंट्रल जेल से जिला कारागार में शिफ्ट

0

49 महिला बंदी और बच्चे सेंट्रल जेल से जिला कारागार में शिफ्ट


प्रयागराज। केंद्रीय कारागार नैनी का बोझ अब काफी हद तक कम हो गया है। नैनी की जिला जेल बनने के बाद सेंट्रल जेल में रहे अंडर ट्रायल बंदियों को पहले ही शिफ्ट किया जा चुका है। बाकी बचे बंदियों को भी जिला जेल में शिफ्ट किया जा रहा है। रविवार की रात 49 महिला बंदियों और 4 बच्चों को शिफ्ट कर दिया गया है। इन्हे महिला बैरक में रखा गया है। नैनी में बनी सेंट्रल जेल में क्षमता से अधिक बंदियों के होने पर बंदियों का बोझ जेल नहीं झेल पा रही थी। जिसके बाद नैनी जिला जेल का निर्माण कराया गया। जिला जेल में बंद पुरुष बंदियों के साथ महिला बंदियों को भी एक के बाद एक शिफ्ट किया जा रहा है। जिला जेल में 1269 बंदी है।
इस जेल की क्षमता 2688 बंदियों की है। 100 बीघे में बनी जिला जेल की व्यवस्थाएं काफी हाईटेक है। रविवार की रात में 49 महिला बंदियों को सेंट्रल जेल से जिला जेल की महिला बैरक में शिफ्ट करा दिया गया। उन महिला बंदियों के साथ 4 बच्चे भी शामिल थे। जेल में बंदियों की सुरक्षा के लिए सिपाहियों की तैनाती की गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे