July 19, 2024

हिण्डाल्को रेनूकूट का गबन किया हुआ माल एल्यूमिनियम इंगट अहमदाबाद गुजरात से मय प्रयुक्त वाहन 3 ट्रक बरामद व 6 नफर अभियुक्त गिरफ्तार

0

हिण्डाल्को रेनूकूट का गबन किया हुआ माल एल्यूमिनियम इंगट अहमदाबाद गुजरात से मय प्रयुक्त वाहन 3 ट्रक बरामद व 6 नफर अभियुक्त गिरफ्तार

पुलिस अधीक्षक जनपद सोनभद्र द्वारा अपराध एवं अपराधियों की गिरफ्तारी के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के तहत क्षेत्राधिकारी पिपरी के निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक राजेश कुमार सिंह थाना पिपरी के कुशल नेतृत्व में दिनांक 29/02/2024 को थाना पिपरी पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या 42/2024 धारा 407 थाना पिपरी जनपद सोनभद्र से सम्बन्धित हिण्डालको कम्पनी का माल एल्यूमिनियम कुल भार 62803 KG (कीमती 16068822.01/- रूपया) जो वाहन संख्या GJ03BV4632 पर कुल 28893 KG, 1276 पीस एल्यूमिनियम इन्गट (कीमत करीब 7392589.74 रूपया), व वाहन संख्या GJ03BY7862 पर माल 33910 KG एल्यूमिनियम (कीमती करीब 8676232.27 रूपया) लोड कर हिण्डालको रेनूकूट से JSW स्टील डोल्वी रायगढ महाराष्ट्र भेजा गया था। उसे रास्ते में वाहन स्वामी की साजिश से वाहन चालकों द्वारा गायब कर दिया गया था, को अभियोग के अनावरण, अभियुक्तों की गिरफ्तारी व माल बरामदगी हेतु गठित SOG/सर्विलांस तथा थाना पिपरी की संयुक्त टीम द्वारा 6 नफर अभियुक्तगण को दिनांक 17.3.2024 को समय करीब 10.50 बजे थाना क्षेत्र नारोल जिला अहमदाबाद गुजरात से गिरफ्तार कर सम्पूर्ण माल की शतप्रतिशत बरामदगी कर अहमदाबाद स्थित न्यायालय से ट्रांजिट रिमाण्ड प्राप्त कर माल व मुल्जिमान को जनपद सोनभद्र लाया गया। गिरफ्तारी व बरामदगी के आधार पर अभियोग उपरोक्त में धारा 411/419/420/467/468/471/34/120बी की बढोतरी कर अभियुक्तगण का चालान माननीय न्यायालय किया जा रहा है।

उक्त अभियोग के अनावरण व माल बरामदगी हेतु गठित टीम द्वारा भौतिक तथा मुख्य रूप से इलेक्ट्रानिक अभिसूचना पर गहनता से कार्य करते हुए वाहनो के स्वामी व चालक तथा माल लोड कराने वाले ब्रोकर के नम्बरो को पूर्ण मनोयोग से विश्लेशण करते हुए उपरोक्त लोडिंग व गन्तव्य स्थल पर माल ले जाने की प्रक्रिया से असम्बद्ध व्यक्ति संदीप गिरि का नम्बर कामन पाते हुए पूरी प्रक्रिया को विश्लेषित किया गया तो घटना में संलिप्त 11 नफर अभियुक्तगण का नाम प्रकाश में आया जिसमें खंडाला राजेश भाई ने वाहन संख्या GJ03BY7862 के चालक भूपति भाई लखबीर को अपने नाम का सिम सम्पर्क व प्रयोग हेतु दिया था। संदीप गिरि उक्त माल को डिस्पोज करने हेतु विचोलिए की भूमिका निभाया था तथा दोनो वाहनो के स्वामी इमरान ने काकू भाई उर्फ निर्भय और अशोक भाई व संदीप गिरि की मदद से उक्त माल को गबन कर बेंचने हेतु अजमल खान और अशफाक खान से सम्पर्क किया अशफाक व अजमल ने अपने और अपने सम्बन्धियो की फर्म ( गुलशन मेटल फर्म अहमदाबाद गुजरात ) से फर्जी ईवे विल तैयार कर उक्त वाहनो में लोड माल को आदित्य मेडल फैक्ट्री झाक अहमदाबाद गुजरात , सम्पत एल्मूनियम प्राइवेट लिमिटेड सांतेज अहमदाबाद गुजरात को बेंच दिया था।

www.khabarjagat24.com
रिपोर्ट मनोज सिंह राणा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे