July 19, 2024

थाना प्रकाश बम्होरी पुलिस ने ग्राम बदौरा खेत के कुआं में मृत मिली बच्ची के अंधे हत्याकांड का किया खुलासा, आरोपी को किया गिरफ्तार

0

*थाना प्रकाश बम्होरी पुलिस ने ग्राम बदौरा खेत के कुआं में मृत मिली बच्ची के अंधे हत्याकांड का किया खुलासा, आरोपी को किया गिरफ्तार*

*पिता ने गला दबाकर हत्या कर आत्महत्या का रूप देने हेतु दुपट्टा से बांधकर फांसी में लटकाया*

*आत्महत्या का रूप देने में असफल होने पर बच्ची के शव को बोरी में भरकर गांव के कुएं में फेंका*

दिनांक 5 मार्च 2024 की रात्रि करीब 9:00 बजे थाने में ग्राम बदौरा निवासी व्यक्ति उम्र 62 साल द्वारा सूचना दी गई की मेरा खेत बदौरा हार में है और खेत में मेरा कुआं है, मैं शाम के घूमते-फिरते बदबू आने पर अपने खेत के कुएं में झांक कर देखा तो एक संदिग्ध हालत में काले रंग की बोरी कुएं में पानी में उतराती हुई दिखी, मक्खी भनक रही हैं।
सूचना प्राप्त होते ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के निर्देशन एवं मार्गदर्शन में थाना प्रकाश बम्होरी पुलिस, एफएसएल टीम मौके पर पहुंचे, एवं बोरी को निकलवा कर खोलकर चेक किया गया तो उसमें एक क्षत विक्षत मृत शरीर मिला, मृतक बालिका के शव की शिनाख्तगी ग्राम बदौरा के ही निवासी 15 वर्षीय बालिका के पिता द्वारा की गई।
पूर्व में दिनांक 26/02/2024 को बालिका उम्र 15 वर्ष के पिता द्वारा थाना प्रकाश बम्होरी में आकर रिपोर्ट की थी कि उसकी 15 वर्षीय बच्ची बिना बताए कहीं चली गई है आसपास एवं रिश्तेदारी में पता किया नहीं मिली,  बच्ची के पिता की रिपोर्ट पर थाना में अपराध धारा 363 पंजीबद्ध कर बालिका की दस्तयाबी हेतु पुलिस ने तलाश प्रारंभ कर दी थी।
मृत बालिका के शव की शिनाख्तगी, पंचनामा, साक्षियों के कथनों के आधार पर मर्ग कायम कर मृतिका का शव चिकित्सालय शव परीक्षण हेतु भेजा गया।
घटनास्थल का निरीक्षण, साक्षियों के कथनों, एफ एस एल, शव परीक्षण रिपोर्ट के अनुसार थाना प्रकाश बम्होरी में उक्त पंजीबद्ध प्रकरण अपराध क्रमांक 12 / 24 में हत्या एवं साक्ष्य नष्ट करने की धारा 302, 201 भारतीय दंड विधान का इजाफा कर विवेचना एवं आरोपी की तलाश कार्यवाही प्रारंभ कर दी गई।
*पुलिस अधीक्षक छतरपुर श्री अमित सांघी द्वारा उक्त घटना की निरंतर समीक्षा की जा रही थी एवं अपराध के खुलासे एवं आरोपी की शीघ्र गिरफ्तारी करने हेतु निर्देशित किया गया था।*
*अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री विक्रम सिंह एवं एसडीओपी लवकुश नगर श्री नवीन दुबे के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी प्रकाश बम्होरी उप निरीक्षक सत्येंद्र सिंह यादव एवं पुलिस टीम द्वारा* उपरोक्त घटना के विभिन्न पहलुओं पर बारीकी से जांच की गई। एवं क्षेत्रीय लोगों से जानकारी भी जुटाई गई। घटनास्थल एवं मृतिका के घर का भौतिक निरीक्षण, साक्षियों के कथनों, क्षेत्रीय लोगों से प्राप्त सूचना, शव परीक्षण रिपोर्ट के आधार पर संदेही मृत बालिका के पिता को अभिरक्षा में लिया गया। पुलिस टीम द्वारा मृत बालिका के पिता से साइंटिफिक तरीके से पूछताछ की गई। पूछताछ पर बालिका के पिता द्वारा हत्या की घटना करना स्वीकार किया गया। लड़की के पिता अभियुक्त निवासी ग्राम बदौरा थाना प्रकाश बम्होरी द्वारा बताया गया कि दिनांक 25 फरवरी 2024 की रात्रि घर में बच्ची के चरित्र में संदेह होने पर उससे झगड़ा किया एवं आवेश में आकर बच्ची का गला दबा दिया, जिससे उसकी मृत्यु हो गई। हत्या की घटना को आत्महत्या का रूप देने के लिए लड़की को उसके दुपट्टे से फासी में लटकाया। आत्महत्या का रूप देने व साक्ष्य मिटाने में असफल होने पर मृत बालिका के शव को काले रंग की बोरी में भरकर गांव के बाहर खेत में कुएं में फेंक आया। एवं दिनांक 26 फरवरी 2024 को थाने में बच्ची के बिना बताए कहीं चले जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।  हत्या एवं हत्या की घटना कर साक्ष्य नष्ट करने की घटना के अभियुक्त उम्र 46 साल निवासी ग्राम बदौरा के विरुद्ध सख्त वैधानिक कार्यवाही कर विवेचना कार्यवाही जारी है।
उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी प्रकाश बम्होरी उप निरीक्षक सत्येंद्र सिंह यादव, सहायक उप निरी. रामाप्रसाद, प्र.आर. सुनील अरजरिया, प्र.आर. नरेश कुमार, आर. अमर सिंह, आर. अजहर, आर. विकास सिंह , आर. पवन, आर. राहुल यादव, आर. हरिशरण एवं एफएसएल टीम से प्रधान आरक्षक मलखान सिंह, आईटी सेल से आर. राहुल भदौरिया, का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

ख़बरजगत के लिये छतरपुर से उदय नारायण अवस्थी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

चर्चित खबरे